गुरुवार, 11 नवंबर 2010

आइये जरा देखें और बताएं ये कौन सा पक्षी है.


दीपावली से एक दिन पहले मैं सुबह जब अपनी छत पर पौधों को पानी दे रहा था तो सामने वाले मकान की दीवार पर एक  पक्षी को  देख कर चौंक  गया. वो  छत की दीवार पर बैठा एक मांस का टुकड़ा खा रहा था. इस पक्षी का  आकार एक कोए के समान था. मुझे पहली नज़र में ये सिखों के गुरु गोविन्द सिंह जी के चित्रों में दिखाने वाले बाज पक्षी सा लगा. मुझे आश्चर्य हुआ कि दिल्ली में बाज जैसा पक्षी कैसे हो सकता है.

शिकारी जीवों में चाहे वो पक्षी हों या फिर जानवर एक अजब सा आकर्षण होता है. उनके हाव भाव उनके निर्भीक स्वभाव को दर्शाते हैं.  बड़े ही शांत भाव से वो अपने पंजे में दबे मांस के टुकड़े को खा रहा था. मैंने अपने जीवन में पहली बार किसी शिकारी पक्षी को इतने नजदीक से देखा.  मुझे इस शानदार पक्षी ने अपना एक चित्र भी लेने दिया और उसके बाद ये उड़ कर जाने कहाँ चला गया.

सफ़ेदपोश गिद्धों कि  दिल्ली में आए इस शिकारी पक्षी  के आप भी दर्शन करें और अगर जानते हों तो इसका सही नाम भी बता दें.

28 टिप्‍पणियां:

  1. पाण्डेय जी लगता तो बाज़ ही है ...... पर शायद बड़े शहर में है इस लिए छोटा लग रहा है ! ;-)

    वैसे कमाल की निगाह पायी है आपने और सटीक टाइमिंग है !

    उत्तर देंहटाएं
  2. भाई, पहेली है क्या?
    नहीं बताते फ़िर:)

    उत्तर देंहटाएं
  3. सुन्दर चित्र!
    फैल्कन, बाज़ - बरेली की भाषा में कहें तो शिकरा.

    उत्तर देंहटाएं
  4. ..

    अगर पता करना ही है कि कौन-सा पक्षी है?
    आप जान लें :
    "जो अपनी हरकतों से बाज ना आये उसे बाज़ कहते हैं."
    समाज में तमाम तरह के बाजों में से यह बाज़ फिर भी बेहतर है.
    यह बाज़ तो केवल भूख मिटाने को मांस खाता है. वे बाज़ अपने मज़े के लिये कुछ भी खा-पी जाते हैं.

    ..

    उत्तर देंहटाएं
  5. बाज ही दिख रहा है | बता दिया इनाम में क्या है वो तो बताया ही नहीं |

    उत्तर देंहटाएं
  6. .

    इस बाज़ का नाम है दीपावली को दीपक से मिलने आया
    'आगंतुक बाज़'.

    .

    उत्तर देंहटाएं
  7. बिल्कुल बाज ही है, मतलब शिकरा... शायद एक नेवल बेस का नाम भी है... आई एन एस शिकरा...

    उत्तर देंहटाएं
  8. लुप्त प्राय है. शिकारियों ने इसे भी नहीं छोड़ा..

    उत्तर देंहटाएं
  9. बाज ही है यार, बच्चे की किताब में मिलता जुलता चित्र देखकर जवाब दिया है।

    उत्तर देंहटाएं
  10. यह गूगल पहेली नहीं है इसलिए जवाब -शिकरा
    यह चित्र गूगल में नहीं मिलेगा इसलिए फर्जीवाड़े इधर नहीं आयेगें !

    उत्तर देंहटाएं
  11. बाज़ है शिकार पर नज़र गड़ाये. :) कोई ब्लॉगर नजर आ गया होगा शायद!!

    उत्तर देंहटाएं
  12. हमें तो नहीं पता क्या है, लेकिन अगर ' ये ' बाज़ है, तो आपको अपने फोटो खीचने के हुनर पर गहन चिंतन मनन की आवश्कता है ....

    उत्तर देंहटाएं
  13. This is Shikra (Accipiter badius) is a very common breeding resident in Haryana.

    उत्तर देंहटाएं
  14. हम तो देशी भाषा में इसे कोतरी कहते हैं। चील से छोटा होता है जी, देखने में बाज का बच्चा लगता है। बाकि काम इसके भी वही बाज वाले हैं।

    प्रणाम

    उत्तर देंहटाएं
  15. अरे आपकी छत पर मांसाहार करता हुआ बाज़ क्या जतलाना चाहता है मैं इसके सांकेतिक अर्थ निकाल रहा हूं ...
    (१) इस जनम में आप पांडे हुए तो क्या मैं अब भी वही हूं मेरे आका :) या फिर ...
    (२) दरअसल वो इसी जनम में आपका पालतू परिंदा है दोस्त उसे मांसाहार करते देखकर आपको कुछ कहें इससे पहले ही आपने एक पोस्ट डाल दी :) या फिर ...
    (३) आप ब्लॉग जगत के दूसरे मासूम परिंदों को अपनी ताकत का अहसास कराना चाहते हैं :) या फिर...
    (४) विचार शून्य होने की आपकी मनोकामना पूर्ण हुई वो गुरुओं का बाज़ है :) या फिर ...
    (५) क्या इसके आगे के अंदाज़े भी मैं ही लगाऊं :)

    उत्तर देंहटाएं
  16. .

    मुझे तो बाजीगर लगता है। उत्तर की प्रतीक्षा रहेगी।

    .

    उत्तर देंहटाएं
  17. सही है, ये शिकरा ही है .... अंग्रेजी में Little Banded Goshawk और विज्ञान में इसे Accipiter badius कहते हैं ...
    ईगल, बाज़ या चील का छोटा भाई है ... उसी परिवार से है ...
    मुर्गी के चुजें, चूहें और छिपकली विशेष रूप से पसंद करता है ...
    आपने किस चीज़ कि दावत दी थी ?

    उत्तर देंहटाएं
  18. हाँ हाँ शिकरा है शिकरा

    राज की बात :
    मैं भी बाज ही कहता लेकिन मिश्र जी का कमेन्ट पढ़ लिया था :))

    इसका एक फोटो ये हो सकता है क्या ? इस फोटो में चोंच बड़ी लग रही है
    http://www.bhaskar.com/2009/02/09/0902090031_photo_exhibition_in_jaipur.html

    उत्तर देंहटाएं
  19. विचारी जी,
    ध्यान से खींचा करो इसका फोटो, खतरनाक है ये :)

    उत्तर देंहटाएं
  20. वाह, पड़ोस की झील में भी यही पक्षी नज़र आता है - पर वो सिर्फ सर्दियों में ही..... आजकल ३-४ नज़र आ जाते है.... नाम आज पता चला..... शिकरा

    उत्तर देंहटाएं
  21. वाह विचारीजी खूब परिचय करवाया श्रीगुरु पादशाहजी के बाज से ......................... इसे ज़रा क्स्क्सक्सक्स्क्स साहबान के ब्लॉग पर भी भेज दीजिये, जिससे की उनकी थोड़ी अक्ल ठिकाने आ जाए

    उत्तर देंहटाएं
  22. शिकरा जी को शिकार करते आपने खूब अपने कैमरे में कैद किया .
    हमारी जानकारी बधाने के लिये धन्यवाद ।

    उत्तर देंहटाएं
  23. आपमें इतनी हिम्मत कैसे ..शिकारी की तस्वीर खींच दी ..लाजबाब कर दिया मुझे ..फिर भी शुक्रिया

    उत्तर देंहटाएं
  24. मैं तो पहले ही दिन से उत्तर की तलाश में थी आज मिल ही गया ये बाज़

    उत्तर देंहटाएं